प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना 2021: PMAGY | संसद आदर्श ग्राम योजना

Uncategorized

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना 2021 | प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना का विवरण हिंदी में | प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना ऑनलाइन आवेदन | पीएमएजीवाई 2020 हिंदी में | सांसद आदर्श ग्राम योजना | एमपी आदर्श ग्राम योजना | साग्य

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना: प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना 2019-10 में भारत सरकार द्वारा शुरू किया गया था। पहले यह योजना केवल 5 राज्यों के 1000 गांवों में पायलट आधार पर शुरू की गई थी। यानी बिहार राजस्थान और असम में तमिलनाडु हिमाचल प्रदेश। बाद में इस योजना को अन्य राज्यों में भी 2015 में 22 अन्य राज्यों जैसे पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, असम, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, झारखंड, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, उड़ीसा, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, बंगाल और हरियाणा में संशोधित किया गया था। प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना का विस्तार अनुसूचित जाति बहुल 1500 गांवों तक भी किया गया।

आज के इस लेख में हम आपको प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना अर्थात PMAGY के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं। इस योजना के तहत हम आपको बताएंगे कि प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है? साथ ही हम आपको बताएंगे कि प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना PMGY योजना के बारे में और भी अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए, कृपया इस लेख को अंत तक पढ़ें।

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना 2020, PMAGY, प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना – संसद आदर्श ग्राम योजना

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हमारी भारत सरकार हमारे भारत देश के विकास के लिए तरह-तरह की योजनाएं लेकर आती है। भारत देश के युवा नागरिकों और देश की आर्थिक गतिविधियों को संभालने और उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए बहुत प्रयास करता है। आज हम आपको एक ऐसी योजना के बारे में बताने जा रहे हैं जिसका नाम है प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना। प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना इससे पहले, इसे केवल 5 राज्यों जैसे बिहार, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, तमिलनाडु और असम के हजारों गांवों में पायलट आधार पर शुरू किया गया था।

2014 में भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना लॉन्च किया गया था और इसी अवधि में 5 राज्यों के हजार गांवों में प्रयोग के आधार पर योजना पेश किया गया था लेकिन बाद में इसमें कुछ बदलाव किए गए। 22 जनवरी 2015 को इस योजना के तहत अन्य राज्यों को भी संशोधित किया गया, जैसे पश्चिम बंगाल उत्तर प्रदेश असम मध्य प्रदेश कर्नाटक झारखंड तेलंगाना आंध्र प्रदेश छत्तीसगढ़ उत्तराखंड पंजाब। प्रस्तावित प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत इन राज्यों के 1500 अनुसूचित जाति बहुल गांवों का भी विस्तार किया गया।

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना का उद्देश्य

50% से अधिक अनुसूचित जाति की आबादी वाले चयनित गांवों के समग्र विकास को सुरक्षित करने के लिए संसद आदर्श ग्राम योजना का मुख्य उद्देश्य है। योजना के तहत सामाजिक और आर्थिक संकेतकों में सुधार। सामाजिक और आर्थिक संकेतकों में सुधार करके अनुसूचित जातियों और गैर-अनुसूचित जातियों की आबादी में समानता लाना। कम से कम संकेतों के स्तर को राष्ट्रीय औसत तक बढ़ाया जाना चाहिए। गरीबी रेखा से नीचे अनुसूचित जाति के परिवारों को भोजन और सुरक्षा प्रदान की जानी चाहिए। एमपी आदर्श ग्राम योजना इसके तहत सभी अनुसूचित जाति के बच्चों को माध्यमिक स्तर तक शिक्षा पूरी करने का अधिकार मिल सकता है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य मातृ एवं शिशु मृत्यु दर के सभी कारणों को दूर करना है। गरीब परिवारों और उनके बच्चों को कुपोषण मुक्त भोजन उपलब्ध कराना। महिलाओं के सन्दर्भ में अनुचित घटनाओं को भी समाप्त करना।

सांसद आदर्श ग्राम योजना की मुख्य विशेषताएं

योजना का नाम एमपी आदर्श ग्राम योजना, प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना
संक्षिप्त रूप एसएजीवाई, पीएमएजीवाई
द्वारा प्रायोजित केन्द्रीय सरकार
किसने शुरू किया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
प्रक्षेपण की तारीख 11 अक्टूबर 2014
लाभार्थी गाँव
आधिकारिक वेबसाइट सांझी.gov.in
विभाग ग्रामीण विकास मंत्रालय
एसएजीवाई गांव सूची आधिकारिक वेबसाइट देखें
एसएजीवाई दिशानिर्देश पीडीएफ डाउनलोड

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत निगरानी सूची

प्राइम मिनिस्टर आदर्श ग्राम योजना (PMAGY),निम्नलिखित कार्यात्मक क्षेत्रों के अंतर्गत 50 निगरानी योगी संकेतों के विवरण की सूची नीचे वर्णित है।

  • सामाजिक सुरक्षा
  • स्वास्थ्य सुरक्षा
  • पोषण
  • शिक्षा
  • पेय जल
  • स्वच्छता
  • ग्रामीण सड़कें
  • ग्रामीण आवास
  • डिजिटाइजेशन
  • वित्तीय समावेशन
  • खेती के तरीके आदि।
  • जीवन और कौशल विकास

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत आने वाली योजनाओं की सूची

अनुसूचित जाति के लिए प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय कल्याण आरती के अंतर्गत आने वाली योजनाएं इस प्रकार हैं।

शैक्षिक विकास योजनाएं

  • घातक व्यवसाय में लगे व्यक्तियों के बच्चों के लिए मैट्रिक छात्रवृत्ति।
  • स्वच्छता एवं स्वास्थ्य योजना के तहत मैट्रिक छात्रवृत्ति।
  • अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए नौवीं और दसवीं कक्षा में प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति।
  • अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए मैट्रिक पोस्ट-मैट्रिक छात्रवृत्ति।
  • अनुसूचित जाति के छात्रों को उच्च शिक्षा के लिए छात्रवृत्ति।
  • अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए राष्ट्रीय प्रवासी छात्रवृत्ति।
  • अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए राष्ट्रीय फैलोशिप।
  • एससी और ओबीसी छात्रों के लिए नि:शुल्क कोचिंग योजना।
  • (बीजेआरसीवाई: बीजेआरसीवाई) बाबू जगजीवन राम छात्रावास योजना

आर्थिक विकास से संबंधित योजनाएं

  • (AWSC) अनुसूचित जातियों के कल्याण के लिए नीतियों का आवंटन।
  • (एससीएसपी) अनुसूचित जाति उप योजना (एससी) के लिए विशेष केंद्रीय सहायता।
  • मैला ढोने वालों के लिए परनवास स्वरोजगार योजना।
  • (NSFDC) राष्ट्रीय अनुसूचित जाति वित्त और विकास निगम द्वारा संचालित योजनाएं।
  • (NSKFDC) राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्त और विकास निगम द्वारा संचालित योजनाएं।
  • डॉ. अम्बेडकर फाउंडेशन द्वारा संचालित योजनाएं
  • (एससीडीसी) योजनाएं।
  • अनुसूचित जातियों के लिए ऋण वृद्धि गारंटी योजना।
  • अनुसूचित जातियों के लिए उद्यम पूंजी निधि योजना

सामाजिक अधिकारिता योजनाएं

  • PMAGY 2021 अनुसूचित जातियों के कल्याण के लिए श्रमिकों के स्वैच्छिक संगठनों को सहायता।
  • अनुसूचित जातियों और अनुसूचित जनजातियों के लिए नागरिक अधिकार संरक्षण अधिनियम।
  • 1955 अनुसूचित जनजातियों और अनुसूचित जातियों के लिए अत्याचार निवारण अधिनियम।
  • 1989 के कार्यान्वयन से संबंधित योजना।

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत आने वाले मंत्रालय

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना 2021 इसके अंतर्गत आने वाले मंत्रियों की सूची इस प्रकार है:

  • स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय
  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय
  • पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय
  • ग्रामीण विकास विभाग ग्रामीण विकास मंत्रालय
  • बिजली मंत्रालय
  • पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय
  • संचार मंत्रालय
  • वित्त मंत्रालय
  • कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय
  • कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय
  • महिला एवं बाल विकास मंत्रालय
  • इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय
  • श्रम और रोजगार मंत्रालय
  • नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय
  • भूमि संसाधन विभाग
  • सूक्ष्म, लघु और मझौले उद्यम मंत्रालय
  • जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्रालय
  • पंचायती राज मंत्रालय
  • बैंक

निष्कर्ष

आज के लेख में हमने आपको एमपी आदर्श ग्राम योजना 2021 इससे संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की, हम आशा करते हैं कि आपको हमारे दिन का यह लेख निश्चित रूप से पसंद आएगा। अगर आप इस लेख से संबंधित किसी भी प्रकार का प्रश्न पूछना चाहते हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके भी पूछ सकते हैं। हम आपके सवालों के जवाब जरूर देंगे। इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना 2021 : PMAGY | Sansad Adarsh Gram Yojana

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Uncategorized

✔️ प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 2021: ऑनलाइन / ऑफलाइन आवेदन करें

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 2021 | प्रधानमंत्री वय वंदना योजना आवेदन | वाया वंदना ऑनलाइन आवेदन | वाया वंदना ऑनलाइन फॉर्म | वय वंदना योजना

Uncategorized

✔️ सहकार मित्र इंटर्नशिप योजना 2021: ऑनलाइन पंजीकरण, आवेदन पत्र

सहकार मित्र इंटर्नशिप योजना | सहकार मित्र इंटर्नशिप योजना 2020 | इंटर्नशिप योजना पंजीकरण | इंटर्नशिप योजना ऑनलाइन आवेदन करें | सहकार मित्र योजना ऑनलाइन